|| सर्व विजयी हिन्दू पुत्र राष्ट्रधर्म आराधना ||
 मस्जिद से चलता था खेल, मुस्लिम तांत्रिक निकला बलात्कारी

29-05-2020

मस्जिद से चलता था खेल, मुस्लिम तांत्रिक निकला बलात्कारी

बिलासपुर एक अबला की कहानी। पति से नोकझोंक कर अलग रहने बाली महिला झार-फूंक को लेकर तांत्रिक के चक्कर में पड़ गई।परेशानी दूर करने के बहाने तांत्रिक ने गृहस्ती उजड़ने का भय दिखाकर महिला के साथ किया बलात्कार। पति से मिलन की उम्मीद में महिला कुछ समय तक स्थिर रही, लेकिन शील भंग होने से परेशान महिला पुलिस चौकी पहुंच गई। प्रशासन ने उसकी रिपोर्ट पर आरोपित के खिलाफ दुष्कर्म का रपट दर्ज कर लिया है। अपराधी तांत्रिक मूल रूप से मनेंद्रगढ़-चिरमिरी निवासी असलम फैजी उर्फ सुहैल रजा (28) पेंड्रा में किराए के मकान में रहता था।पास में ही एक मस्जिद में वो मौलवी था। वह मौलवी मस्जिद में झाड़-फूंक किया करता था।दूर दराज से भी पीड़ित उम्मीद लिए उस मौलवी के पास पहुंचते थे। मौलाना बड़ी शातिर था अपनी हवस की पूर्ति के लिए न जाने कितनी औरतों का अस्मत अब तक लूट चुका था ।कोरबा गाँव की रहने बाली 34 वर्षीय महिला को मालूम हुआ कि पेंड्रा में एक मौलवी तांत्रिक है, जो झाड़-फूंक के जरिए सभी तरह की परेशानियों को दूर करता है। यह पीड़ित महिला बीते मार्च तांत्रिक असलम फैजी के पास अपनी समस्या लेकर आई थी।पारिवारिक समस्या को बताते हुए पति की हरकत से परेशान वह बेचारी चार बच्चों को छोड़कर अपने मायके में रहती है। पति उसके बच्चों के साथ रहता है।यह सारी बातें उस महिला ने मौलवी तांत्रिक को बताया फिर क्या था तांत्रिक ने झाड़-फूंक का बहाना ।उस महिला को एक अकेले कमरे में ले जाकर उसे डरा-धमका कर समस्या खत्म होने की बात कहकर शारीरिक उस महिला के साथ बलात्कार किया। उसके बाद यह आश्वस्त करने की वह कोशिश किया कि बहुत जल्द तुम्हारे समस्याओं का अंत हो जाएगा।कुछ दिन बीत जाने के बाद भी न तो महिला को उसका पति मिला और न ही समस्या दूर हुई।नतीजतन वह महिला उस मामले की शिकायत लेकर पेंड्रा थाने पहुंची। जहां उसकी रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपित असलम फैजी के खिलाफ धारा 376 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है। केश दर्ज हो जाने के बाद एक माह से गायब है वह आरोपित, तलाश में जुटी हुई है पुलिस। महिला की शिकायत सुनने के बाद पुलिस ने आरोपित असलम फैजी की जानकारी जुटाई। तब पता चला कि वह मस्जिद में मौलवी था और किराए के मकान में रहता था। लेकिन कुछ समय से वह वापस चिरमिरी चला गया है। पुलिस ने इस मामले में जुर्म दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है। अंधविश्वास के कारण ना जाने कितनी महिला अपनी अस्मत खो देती है कितनी असमत खो देने के बाद गिलानी से जान दे देती है। पूरे हिंदुस्तान में आए दिन किसी न किसी मस्जिद से ऐसी घटना सुनने को मिलती रहती है कहीं न कहीं कोई न कोई मौलवी आए दिन इस तरीके की घिनौनी कृत्य करते हुए सार्वजनिक स्तर पर इस पाप से मुंह काला किए हुए सामने आता रहता है। एसपी अभिषेक मीणा ने इस तरह की घटनाओं से आम लोगों को सावधान रहने की अपील की है। उन्होंने कहा कि तंत्र-मंत्र व झाड़-फूंक महज दिखावा है। इससे किसी तरह की समस्या का समाधान नहीं होता। अंधविश्वास के झमेले में पड़ने उल्टा जोखिम बढ़ जाता है। समय रहते समझदारी से काम लें और सही परामर्श लेकर अंधविश्वास को दूर करें।। हिंदू पुत्र संगठन भी आप सब को सतर्क करता है की इस तरीके के सेक्स जिहाद के चंगुल में जाने से आप लोग बचे।



Share this on:
More Current News